June 21, 2024

Warning: sprintf(): Too few arguments in /home/webindia/public_html/publiceye.co.in/wp-content/themes/chromenews/lib/breadcrumb-trail/inc/breadcrumbs.php on line 253

 

 

सिंहभूम चैम्बर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री के प्लेटिनम जुबिली के ‘‘लोगो’’ ;स्वहवद्ध का अनावरण अतिथि श्री पीयूष गुप्ता, उपाध्यक्ष, जीएसपी एवं सप्लाई चेन, टाटा स्टील एवं श्री अमिताभ बख्शी, चीफ, प्रोक्योरमेंट विभाग, टाटा स्टील के कर कमलों से संपन्न हुआ। इस दौरान सिंहभूम चैम्बर अपने गौरवान्वित 75वां वर्ष पूर्ण कर रहा है। अतः इस वर्ष को यादगार बनाने के लिये चैम्बर द्वारा भव्य कार्यक्रमों का आयोजन किया जायेगा। इसके लिये स्मृति स्वरूप एक विषेष लोगो का डिजाईन किया गया है। जिसका आज अनावरण आज चैम्बर भवन में उपस्थित अतिथियों एवं पूर्व अध्यक्षों के हाथों किया गया। यह जानकारी अध्यक्ष विजय आनंद मूनका एवं मानद महासचिव मानव केडिया ने संयुक्त रूप से दी।

आज के कार्यक्रम में सर्वप्रथम उपस्थित अतिथियों द्वारा एक विषेष ‘‘लोगो’’ ;स्वहवद्ध गुब्बारे की मदद से आसमान में छोड़ा गया। तत्पष्चात चैम्बर के पारीख सभागार में ‘‘लोगो’’ ;स्वहवद्ध की डिजिटल लांचिंग की गई।

अध्यक्ष श्री मूनका ने जानकारी दी कि चैम्बर के प्लेटिनम जुबिली वर्ष पर भव्य समारोहों का आयोजन कर इसे मनायेगा। चैम्बर ने अपने स्थापना काल सन्1948 से अब तक व्यवसायी एवं उद्यमी हित के अलावा कोल्हान के आम जनमानस के हित में जितने भी कार्य किये हैं वह व्यवसायी जगत एवं जमषेदपुर की जनता के लिये सराहनीय हैं और चैम्बर सदस्य इसके लिये अपने-आप को गौरवान्वित महसूस करते हैं।

इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित टाटा स्टील के उपाध्यक्ष, जीएसपी एवं सप्लाई चेन पीयूष गुप्ता ने उपस्थित सदस्यों को संबोधित करते हुये अपने संबोधन में कहा कि यह हर्ष की बात है सिंहभूम चैम्बर आज से अपना प्लैटिनम जुबिली समारोह मना रहा है। चैम्बर आज विकास की इस ऊँचाई पर विराजमान है तो यह अच्छी तरह समझा जा सकता है कि इसमें इनके सदस्यों का इन 75 वर्षों के दौरान कितना समर्पण और योगदान रहा होगा। चैम्बर ने कोरोना काल में जब सभी कुछ ठहर सा गया था तब सिंहभूम चैम्बर, स्थानीय व्यापारी एवं उद्यमियों ने टाटा स्टील को अपना भरपूर समर्थन दिया और इस दौरान टाटा स्टील को सप्लाई जारी रखी जो एक सराहनीय कदम है और इसके लिये टाटा स्टील उनका आभार प्रकट करता है। उन्होंने कहा कि टाटा स्टील का व्यापार पूरी दुनिया में फैला है जिसमें स्थानीय वेंडरों, व्यवसायिों की महत्वपूर्ण भूमिका है। टाटा स्टील में पूर्व से निबंधित वेंडर्स और जो नये वेंडर के रूप में स्थापित होना चाहते हैं उसके लिये टाटा स्टील में व्यापार के नये अवसर खुले हैं। टिनप्लेट कंपनी एवं आईएसडब्ल्यूपी में शुरू हुये नये निवेषों की ओर ध्यान आकर्षित करते हुये उन्होंने चैम्बर के सदस्यों से आग्रह किया कि वे भी आगे आकर टाटा स्टील के साथ कंधे से कंधा मिलाकर आगे बढ़ें। अपने उद्बोधन में उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय स्तर पर फिक्की, सीआईआई और एसोचैम जैसे व्यापारिक संस्थायें देष भर में व्यापारी हित के कार्यों और जरूरतों को पूरा करने में लगे हैं लेकिन झारखण्ड में विषेषकर पूर्वी सिंहभूम जिले में सिंहभूम चैम्बर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री इस कार्य में लगा है और व्यापारी समुदाय को आगे बढ़ाने में उल्लेखनीय भूमिका निभा रहा है। देष में ऐसी कम ही संस्थायें हैं जो 75 वर्षों तक कार्य करते हुये प्लैटिनम जुबिली मनाया है लेकिन सिंहभूम चैम्बर ने अपनी दृढ़ता से इसे कर दिखाया और आज प्लैटिनम जुबिली मना रहा है। हमारी अपेक्षा है इसी तरह यह अपनी 100वीं वर्षगांठ भी पूरा करे।

विषिष्ट अतिथि के रूप में उपस्थित श्री अमिताभ बख्शी, चीफ, प्रोक्योरमेंट विभाग, टाटा स्टील ने अपने संबोधन में सिंहभूम चैम्बर के कार्यों की भूरि-भूरि प्रषंसा की और कहा कि टाटा स्टील के विकास में चैम्बर की अहम भागीदारी रही और जमषेदपुर के औद्योगिक विकास और शहरी क्षेत्रों के विकास में चैम्बर का महत्वपूर्ण सुझाव और सहयोग मिलता रहा। टाटा स्टील ने स्थानीय व्यापारियों को प्राथमिकता देने हेतु चैम्बर के साथ आवष्यक बैठकों के आयोजन का दौर शुरू किया है।

पूर्व अध्यक्ष मुरलीधर केडिया ने इस अवसर पर चैम्बर के 75 वर्षों के गौरवमयी इतिहास की जानकारी उपस्थित सदस्यों के समक्ष रखी और व्यापारी हित के प्रति चैम्बर की दृढ़ता को बताया।

समारोह में चैम्बर उपाध्यक्ष नितेष धूत एवं मुकेष मित्तल ने भी उपस्थित सदस्यों को संबोधित करते हुये अपना उद्बोधन दिया।

कार्यक्रम का संचालन सचिव अनिल मोदी ने किया एवं सचिव, पीयूष चौधरी ने उपस्थित मुख्य अतिथि श्री पीयूष गुप्ता का विस्तृत परिचय उपस्थित सदस्यों के समक्ष रखा। कार्यक्रम के अंत में धन्यवाद ज्ञापन महासचिव मानव केडिया ने दिया।

इस अवसर पर अध्यक्ष विजय आनंद मूनका, पूर्व अध्यक्ष मुरलीधर केडिया, मानद महासचिव मानव केडिया, उपाध्यक्ष नितेष धूत, दिलीप गोलेच्छा, मुकेष मित्तल, सचिव अनिल मोदी, पीयूष चौधरी, भरत मकानी, कोषाध्यक्ष किषोर गोलछा, पवन शर्मा, सीए जगदीष खंडेलवाल, आकष मोदी, ए.के. साह, संजय साह, दिलीप गोयल, मनोज गोयल, अनंत मोहनका, सत्यनारायण अग्रवाल, अनूप शर्मा, पुरूषोत्तम अग्रवाल, सतीष कुमार सिंह, विवेक तुलस्यान, नवलकिषोर अग्रवाल, रमेषचन्द्र अग्रवाल, प्रकाष पटवारी, बिनोद सावा, संजय शर्मा, ओपी ईनानी, हंसराज मूनका, चन्द्रकांत जटाकिया, कमल मकाती, सुगम सरायवाला, अंषुल रिंगसिया, चेतन गर्ग, कुंजबिहारी ओझा के अलावा काफी संख्या में व्यवसायी एवं उद्यमी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *